बिहार शिक्षक की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह घोषणा किया है कि शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर शिक्षकों और अन्य पदों पर बहाली होगी इसके लिए तैयारी शुरू हो चुकी है। इसके साथ ही शिक्षकों से भी अपील किया है कि बच्चों को सच्चे मन से पढ़ाएं आप लोगों का समय-समय पर सरकार वेतन बढ़ाएगी।

नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम के दौरान किया यह घोषणा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को उच्च माध्यमिक विद्यालय के 369 प्रधानाध्यापक, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के 37 व्याख्याता, पटना विश्वविद्यालय एवं मौलाना मजहरूल हक विश्वविद्यालय के 17 सहायक प्राध्यापक एवं राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालय के 139 सहायक प्राध्यापकों के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम के दौरान यह घोषणा किया है।

 

शिक्षा के क्षेत्र 51 हजार करोड से अधिक होगा खर्च

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि बिहार में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम हुआ है। आज बड़ी संख्या में लड़कियां इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने जाती है जो पहले बहुत कम पड़ती थी। बिहार में लोक सेवा आयोग, बिहार कर्मचारी चयन आयोग, तकनीकी सेवा आयोग, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग, केंद्रीय चयन परिषद(सिपाही भर्ती), बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग का गठन करके विभिन्न पदों पर बहाली किया जाता है। बता दे कि वर्ष 2022-23 में 51,000 करोड से ज्यादा शिक्षा के क्षेत्र में खर्च किया जाएगा वही आगे और अधिक खर्च करने की योजना है। उन्होंने आगे कहा कि हमने बिहार कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई किया है जब केंद्र सरकार में श्रध्देय अटल जी की सरकार थी तो हमने उनसे आग्रह करके इसे एनआईटी बनवाया हमारे अनुरोध पर ही पटना में आईआईटी बनाया गया।

सरकार हर वादा पूरा करेगी-उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नियुक्ति पत्र वितरण के दौरान कहा कि राज्य में महागठबंधन की सरकार राज्य के विकास और युवाओं -गरीबों के लिए दिन रात काम कर रही है। यह महागठबंधन की सरकार अपना हर वादा पूरा करेगी इसके लिए धैर्य बनाए रखें। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से हम लोगों की मांग रही की बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले विशेष पैकेज मिले इस पर कोई विचार नहीं किया जा रहा है। उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया की वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने की घोषणा का क्या हुआ बताएं? वही हर साल 2 करोड नौकरी देने का ऐलान करने वाले केंद्र सरकार 8 सालों में कितनों को नौकरी दिया बताएं? उन्होंने कहा कि पिछड़े और गरीब राज्य होने के बावजूद बिहार सरकार युवाओं को बड़ी संख्या में सरकारी नौकरी और रोजगार के साधन मुहैया करा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि इतिहास को बदलने की कोशिश केंद्र द्वारा किया जा रहा है जिसे हम लोग कभी नहीं होने देंगे। आपको बता दें कि इस मौके पर वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी, शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर, विज्ञान एवं प्रावैधिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह, मुख्य सचिव अमीर सुबहानी और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने अपनी बात कही।

Rajan Sharma

Our motive to spread genuine and verified news of all over India.