Success story of IAS AishwaryaSheoran-पहले शुरू किया मॉडलिंग, फिर बिना कोचिंग के पहले प्रयाश में बनी IAS अफसर

भारत में प्रशासनिक सेवा में शामिल होने के लिए हर साल लाखों अभ्यार्थी आवेदन करते हैं। हर साल यूपीएससी की परीक्षा देते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही अभ्यार्थी अपने लक्ष्य को हासिल कर पाते हैं। यूपीएससी की परीक्षा को सबसे कठिन परीक्षा माना जाता है।यूपीएससी की परीक्षा पास करने के लिए लगातार कई सालों तक छात्र तैयारी करते हैं पढ़ाई करते हैं। हालांकि इतिहास में कई ऐसे लोग भी आईएएस बने हैं जिन्होंने पहले से किसी सम्मानित नौकरियों में थे उन्होंने अपनी अच्छी खासी पोस्ट, लाखों की सैलरी छोड़कर आईएएस बनने के लिए तैयारी शुरू किया है और सफलता भी हासिल किया है। बता दें कि इस लिस्ट में एक और नाम शामिल हुआ था वह नाम है ऐश्वर्या श्योराण का। उनका यह उपलब्धि इसलिए खास माना जाता है क्योंकि वह फेमिना मिस इंडिया की फाइनलिस्ट्स चुकी है। जरा सोचिए एक मॉडलिंग और ब्यूटी कंपटीशन से जुड़ी एक लड़की ने पहले ही प्रयास में आईएएस बन गई और वो भी बिना किसी कोचिंग के तो यह वाकई में बेहद तारीफ के काबिल है। आइए इनके बारे में और अधिक जानते हैं।

ऐश्वर्या श्योराण का जीवन परिचय

आपको बता दे कि ऐश्वर्या श्योराण मूल रूप से राजस्थान की रहने वाली है। हालांकि उनका परिवार शुरू से ही दिल्ली में रहता था. उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई दिल्ली के ही चाणक्यपुरी के संस्कृति स्कूल से किया है, शुरू से ही ऐश्वर्या पढ़ाई में होनहार थी। उन्होंने 12वीं की परीक्षा में 97.5 प्रतिशत नंबर लाकर टॉप किया था। उसके बाद उन्होंने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल किया।

ऐश्वर्या श्योराण का परिवार

ऐश्वर्या के पिता का नाम अजय श्योराण है जो भारतीय सेना में कर्नल है। उनकी मां का नाम सुमन है जो एक हाउसवाइफ है। उनका परिवार पूरा अभी मुंबई में रहता है।

माँ का सपना पूरा करने के लिए मॉडलिंग में आयीं 

ऐश्वर्या शुरू से जाती थी वह प्रशासनिक सेवा में काम करें। लेकिन उनकी मां चाहती थी कि ऐश्वर्या मिस इंडिया बने, इसलिए उनकी मम्मी ने उनका नाम भी ऐश्वर्या राय के नाम पर रखा। ऐश्वर्या अपनी मां का सपना पूरा करने के लिए मॉडलिंग की तरफ कदम बढ़ाया और साल 2014 में ऐश्वर्या दिल्ली की क्वीन एंड क्लियर फेस फ्रेश बनी और 2015 में मिस दिल्ली का खिताब अपने नाम किया। ऐश्वर्या ने साल 2016 में फेमिना मिस इंडिया प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। इसके दौरान ऐश्वर्या फेमिना मिस इंडिया 2016 में 21वीं फाइनलिस्ट भी रहीं, अपनी मां का सपना पूरा करने के लिए इस मुकाम तक पहुंच कर दिखाया और अब ऐश्वर्या के सपने की बारी थी।

बिना कोचिंग के पहले ही प्रयास में पास किया यूपीएससी की परीक्षा

रिपोर्ट के अनुसार आपको बता दें कि ऐश्वर्या साल 2018 में यूपीएससी की तैयारी शुरू की। उन्होंने 10 महीने घर पर ही पढ़ाई किया और बिना किसी कोचिंग के पहले ही प्रयास में मात्र 10 महीने में ही ऐश्वर्या ने सफलता हासिल कर लिया। जानकारी के अनुसार ऐश्वर्या यूपीएससी ऑल इंडिया में 93वीं हासिल करके आईएएस अफसर बन गई। ऐश्वर्या श्योराण का चयन आईआईएम इंदौर में हुआ था लेकिन उन्होंने यहा एडमिशन नहीं लिया। उन्होंने अपना पूरा फोकस प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास करने में लगा दिया।

Leave a Comment