बिहार झारखंड एवं पश्चिम बंगाल का महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट रक्सौल हल्दिया एक्सप्रेस वे पर बड़ा अपडेट सामने आया है। रक्सौल हल्दिया एक्सप्रेस वे बिहार के रक्सौल से शुरू होकर झारखंड होते हुए पश्चिम बंगाल के हल्दिया तक बनाई जानी है।

जनिए ग्रीनफ़ील्ड का मतलब

इस एक्सप्रेस वे की एक बड़ी खासियत यह है कि यह पूरी तरह से ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे होगा, इस प्रोजेक्ट से संबंधित जो डीपीआर बनाई जा रही है उसमें ग्रीन फील्ड का मतलब यह है कि इस एक्सप्रेस-वे पर बीच में कहीं से भी चढ़ा नहीं जा सकेगा, जिससे दुर्घटना की स्थिति बिल्कुल खत्म हो जाएगी। रक्सौल से लेकर हल्दिया तक एक्सप्रेस वे की कुल लंबाई 695 किलोमीटर है। बिहार के 9 जिलों से होकर गुजरने वाला इस एक्सप्रेसवे का निर्माण नए साल 2023 में शुरू हो जाएगा।

 

बिहार झारखंड और बंगाल का बदलेगा भाग्य

बिहार के पश्चिमी चंपारण पूर्वी चंपारण मुजफ्फरपुर सारण पटना बिहार शरीफ शेखपुरा जमुई और बांका जिले से इस एक्सप्रेस-वे को गुजारा जाएगा, बिहार के बाद झारखंड के सरैयाहाट नोनीहाट एवं दुमका से गुजरते हुए यह एक्सप्रेसवे पश्चिम बंगाल के पानागढ़ से हल्दिया तक बनाया जाना है।

 

जनिए कब पुरा होगा यह प्रोजेक्ट एवं लागत

इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य पर लगभग 54000 करोड रुपए खर्च किए जाएँगे। तथा इसे साल 2025 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस एक्सप्रेस-वे के शुरू हो जाने से गुजरने वाले जिलों का विकास तो होगा ही साथ साथ पश्चिम बंगाल के हल्दिया पोर्ट से नेपाल पोर्ट तक कनेक्टिविटी स्थापित हो जाएगी। जिससे माल ढुलाई मे बड़ी मदद मिलेगी।

Kush Singh

I write and review news over Kanpuriya News. My focus is to bring people near positive and genuine news only.