बिहार के पटना और कोलकाता जोड़ने के लिए एक्सप्रेस-वे का निर्माण होने वाला है, यह एक्सप्रेसवे पटना के बख्तियारपुर से शुरू होकर नालंदा, शेखपुरा, जमुई होते हुए देवघर के देवीपुर, मधुपुर, करौं व जामताड़ा जिले होते हुए दुर्गापुर और पन्ना गढ़, दानकुनी होते हुए कोलकाता जाएगी। इस एक्सप्रेस वे के बनने से बिहार झारखंड और बंगाल के कई शहरों को लाभ मिलेगा।

BIHAR से सीधा जुड़ेगा कोलकत्ता

ढाई से 3 घंटे में तय होगी देवघर कोलकाता की दूरी

आपको बता दे कि मंत्रालय से एनएचएआई की लैंड एक्यूजेशन कमेटी के चेयरमैन को एलाइनमेंट व डीपीआर सांचा बनाने का निर्देश दिया गया है अगले 6 महीनों में एलिमेंट सेक्स करके डीपीआर को फाइनल कर दिया जाएगा, उसके बाद भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होगी।इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण होने से बिहार के पटना और देवघर से कोलकाता का सफर आसान हो जाएगा, इस एक्सप्रेस वे से ढाई से 3 घंटे में देवघर कोलकाता की दूरी तय किया जा सकेगा। आपको बता दें कि भारतमाला फेज-टू के तहत या सड़क उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल एक्सप्रेस बनाया जाएगा। सिक्स लेन के बनने वाले इस एक्सप्रेस-वे के लिए लगभग 18 हजार करोड़ रुपए से अधिक लागत की अनुमान है। बता दें कि यह एक्सप्रेसवे पूरी तरह से ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे होगा इसमें कोई भी पुरानी सड़क शामिल नहीं किया जाएगा।

450 किलोमीटर होगी लम्बाई, 6 लेन एक्सेस कंट्रोल राजमार्ग होगा

यह एक्सप्रेसवे पटना के बख्तियारपुर से शुरू होकर नालंदा, शेखपुरा, जमुई होते हुए देवघर के देवीपुर, मधुपुर, करौं व जामताड़ा जिले होते हुए दुर्गापुर और पन्ना गढ़, दानकुनी होते हुए कोलकाता जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पटना कोलकाता एक्सप्रेस बिहार की यह पहली सड़क होगी, एज फ्रस्ट्रेटेड होगा। पटना बख्तियारपुर होते हुए रजौली से यह एक्सप्रेसवे निकलेगा वही नालंदा बिहार शरीफ से इसका एलाइनमेंट अलग हो जाएगा। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के द्वारा 450 किलोमीटर से अधिक पटना कोलकाता एक्सप्रेस वे बिहार और पश्चिम बंगाल के बीच प्रस्तावित सिक्स लेन एक्सेस कंट्रोल राजमार्ग होगा। आपको बता दें कि यह ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पुराने भीड़भाड़ वाले राजमार्ग 2 के विकल्प के रूप में काम करेगा जिस पर भारी वाहनो का परिचालन होगा।

Rajan Sharma

Our motive to spread genuine and verified news of Kanpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, Bihar and all over India.