NHAI ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, 100 घंटे में तैयार किया 100KM का एक्सप्रेसवे, गाजियबाद-अलीगढ को जोड़ेगा, PM मोदी ने की तारीफ

NHAI यानी भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के द्वारा 100 घंटे के भीतर 100 किलोमीटर का नया एक्सप्रेसवे बिछाकर अपनी शानदार उपलब्धि में एक और विश्व रिकॉर्ड बना दिया है। भारत के केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी ने निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने इस रीसायकल मेथड की तारीफ किया है। यह एक्सप्रेसवे राष्ट्रीय राजमार्ग 34 का हिस्सा है जो बुलंदशहर के माध्यम से गाजियाबाद और अलीगढ़ से जुड़ेगा। आइए विस्तार से जानते है।

जानकारी के अनुसार आपको बता दे, इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण CCPR कोल्ड सेंट्रल प्लांट रीसाइकलिंग टेक्नोलॉजी का उपयोग करके किया जा रहा है इसमें एनएचएआई को कार्बन उत्सर्जन कम करने में मदद किया है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार इस इनोवेटिव ग्रीन टेक्नोलॉजी में 90 परसेंट मिल्ड मटेरियल का उपयोग हो रहा है जो 20 लाख वर्ग मीटर सड़क की सतह के बराबर है। इसके नतीजन फ्रेश मटेरियल की खपत घटकर मात्र 10 परसेंट रह गया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

118 किलोमीटर का एक्सप्रेसवे

आप की जानकारी के लिए बता दें कि गाजियाबाद अलीगढ़ एक्सप्रेसवे की लंबाई 118 किलोमीटर है। यह एक्सप्रेस वे उत्तर प्रदेश में दादरी, नोएडा, सिकंदराबाद, बुलंदशहर और खुर्जा जैसे जगहों को भी जुड़ेगा। नितिन गडकरी ने ट्वीट करके बताया कि यह एक महत्वपूर्ण व्यापार मार्ग के रूप में कार्य करता है ट्रांसपोर्टेशन को सुविधाजनक बनाता है यही नहीं औद्योगिक क्षेत्र में, कृषि क्षेत्र में और शैक्षणिक संस्थानों को जोड़कर क्षेत्रीय आर्थिक विकास में योगदान देगा। सिक्स लें का यह एक्सप्रेस वे गाजियाबाद के बीच यात्रा के समय देगा।

 

इससे पहले भी बन चुका है वर्ल्ड रिकॉर्ड

एनएचएआई के लिए तेज गति से नई एक्सप्रेसवे बिछाने का रिकॉर्ड बनाना कोई बड़ी बात नहीं रह गई है बीते साल अगस्त में एनएचएआई ने एनएच 53 पर अमरावती और अकोला के बीच 105 घंटे और 33 मिनट के रिकॉर्ड समय में 75 किलोमीटर की सड़क का निर्माण करके गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह उपलब्धि हासिल करने के लिए एजेंसी को लगभग 80,000 श्रमिकों, 200 रोड रोलर, की आवश्यकता थी।

Leave a Comment