बिहारवासियो को बड़ा तोहफ़ा, मंज़ूर हुआ राज्य का दूसरा एम्स, उत्तर बिहार और नेपाल को बड़ा सौग़ात

उत्तर बिहार के जिलों के लिए राज्य सरकार के द्वारा आज एक बड़ी खुशखबरी जारी की गई है, बिहार के दरभंगा जिले में एम्स के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। इसके निर्माण से उत्तर बिहार ही नहीं बल्कि नेपाल के लोगों को भी इसका बड़ा लाभ मिलेगा।

All India Institutes of Medical Sciences (AIIMS). (File Photo: IANS)

इससे पहले यहाँ हुआ था चिन्हित

इससे पहले भी दरभंगा मेडिकल कॉलेज के पास 227 एकड़ जमीन चिन्हित की गई थी, तकनीकी कारणों से ठीक ना होने के वजह से नए स्थल को चिन्हित किया गया है।

सीएम नीतीश कर चुके है मुआएना

बीते दिन समाधान यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस नए जगह का मुआयना किया एवं इसे सही ठहराया। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार दरभंगा जिले के बलिया मौजा में 150 एकड़ जमीन पर एम्स के निर्माण के लिए चुना है।

आमस दरभंगा फ़ोरलेन से महज़ 5 KM की दूरी पर बनेगा नया एम्स

निर्माणाधीन आमस दरभंगा एक्सप्रेस वे से चिन्हित जमीन की दूरी महज 5 किलोमीटर है, अब अगले चरण में इस जमीन से संबंधित अधिग्रहण की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। इसके लिए पहला आदेश दरभंगा जिले के प्रशासन को भेजा गया है, प्रशासन जमीन के अधिग्रहण के लिए रिपोर्ट सौंपेगी।

केंद्र सरकार ने 2017 में किया था ऐलान

उसके बाद अगले चरण में राज्य कैबिनेट को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के द्वारा भेजे गए प्रस्ताव पर कार्य करना है, तथा अगले चरण में किसानों को उनके जमीन का भुगतान भी शुरू कर दिया जाएगा। आपको बता दें कि साल 2017 में केंद्र सरकार ने दरभंगा में एम्स के निर्माण के लिए ऐलान किया था।

पढ़ाई और इलाज दोनो को मिलेगा नया उड़ान

दरभंगा में एम्स के निर्माण हो जाने के बाद प्रतिदिन लगभग ढाई हजार मरीज इलाज करा सकेंगे, नए एम्स का बजट लगभग 1264 करोड़ रुपए है। इस अत्याधुनिक अस्पताल में 750 बेड का व्यवस्था उपलब्ध रहेगा,इस नए एम्स हॉस्पिटल में 100 एमबीबीएस और 60 सीटों पर बीएससी नर्सिंग की भी पढ़ाई की जा सकेगी।

बिहार का दूसरा एवं देश का 22वाँ एम्स बनकर होगा तैयार

नए अस्पताल में 15 से 20 सुपर स्पेशलिटी डिपार्टमेंट बनाए जाएंगे, बिहार में दरभंगा एम्स राज्य का दूसरा एम्स होगा, तथा देश में दरभंगा जिले को 22वाँ एम्स मिल जाएगा। इसका निर्माण प्रधान मंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत किया जाना है।

Leave a Comment