दादाजी के सपनो को पूरा करने के लिए हेलीकॉप्टर से निकाली बारात, अनोखी बारात को देखने लोगो की लगी भीड़

सपनों को पूरा करने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं। आजकल ऐसे ही दो चचेरे भाइयों की शादी ने खूब सुर्खियां बटोर रही है जिन्होंने अपने दादाजी के सपने को पूरा करने के लिए हेलीकॉप्टर से बारात निकाला, दरअसल आपको बता दे कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कुराना गांव के रहने वाले दो चचेरे भाई जिनका नाम हेम मंडलोई और यश मंडलोई है जिन्होंने अपनी बारात लेकर शाजापुर जिले के सुजालपुर पहुंचे, जोकि भोपाल से लगभग 80 किलोमीटर दूरी पर है। दूल्हे के घर जैसे ही हेलीकॉप्टर पहुंचा इस अनोखी बरात को देखने के लिए लोगों का जमावड़ा लग गया।

दादाजी ने देखा था सपना, बेटा और पोते किया पूरा 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दूल्हों ने बताया कि यह हमारे दिवंगत दादाजी की इच्छा थी कि उनके पोते हेलीकॉप्टर से बारात लेकर जाए और दुल्हनों को इसमें लेकर आए। हालांकि दादाजी आज इस दुनिया में नहीं है लेकिन हमारे दादा जी के सपनों को हमारे पिताओं ने पूरा किया। उन्होंने आगे कहा कि, अब हमारे परिवार की एक परंपरा बन गई है इस परंपरा को हम आगे भी जारी रखेंगे।

परिवार का बड़ा बेटा भी निकाला था हेलीकॉप्टर से बारात 

हेलीकॉप्टर से बारात निकलने पर परिजन भी काफी खुशहाल नजर आ रहे। आपको बता दे कि यह पहली बार नहीं है कि हेलीकॉप्टर किराए पर लिया गया हो, इससे पहले भी परिवार के पहले बेटे की शादी हुई थी उस वक्त भी हेलीकॉप्टर किराए पर लिया गया था। बता दें कि परिवार के सबसे बड़े बेटे देवेंद्र मंडलोई, परिवार के सबसे पहले व्यक्ति हैं जिनकी भारत 2014 में हेलीकॉप्टर से निकाली गई थी।

हेलीकॉप्टर किराए पर लेने में करीब 5 से 6 लाख रुपए होता है खर्च

मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दे कि, यह मंडलोई परिवार का मुख्य व्यवसाय कृषि है। परिवार वालों के अनुसार बता दें कि एक हेलीकॉप्टर किराए पर लेने में करीब 5 से 6 लाख रुपए खर्च होते हैं।

Leave a Comment