बिहार में घुस घुसकर किया चुनाव प्रचार, ढाई सौ से ज्यादा रैली, फिर भी मिले चार सीट, मोदी मैजिक के आगे नहीं चले तेजस्वी

2024 लोकसभा चुनाव के नतीजे देखकर सभी हैरान है बिहार की बात करें तो चुनाव में बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राजद के नेता तेजस्वी यादव ने लगभग 250 से ज्यादा जनसभाएं और रोड शो किया है पूरे बिहार के अंदर चारों ओर घुस कर खूब प्रचार किया लेकिन इसके बावजूद भी तेजस्वी यादव को 23 में से सिर्फ चार सीट पर जीत मिली। आइये जानते है कहा हो गयी चूक।

बिहार में किस पार्टी को कितनी मिली सीटे

चलिए आपकी जानकारी के लिए बता दे कि बिहार की 40 सीटों में राष्ट्रीय जनता दल ने 23, कांग्रेस ने 9, लेफ्ट ने 5 और वीआईपी ने तीन सीटों पर चुनाव लड़े थे। आपको बता दें इनमे राजद के 4, कांग्रेस के तीन, लेफ्ट के 2 सीटे जीती है। वही आपको बता दे की बीजेपी और जदयू ने 12-12 और चिराग पासवान की एलजेपी ने 5 सीटे जीते हैं।

मोदी के आगे महंगाई बेरोजगारी के मुद्दे नहीं चले

तेजस्वी यादव चुनाव प्रचार के दौरान लगातार भाजपा पर निशाना साधा बेरोजगारी और महंगाई का मुद्दा उठते रहे। उनके रैली और जनसभा में भी खूब भीड़ देखने को मिली लेकिन चुनाव नतीजा आने के बाद ऐसा लग रहा है की मोदी मैजिक के आगे तेजस्वी की एक भी नहीं चली और जनता ने मोदी के नाम पर वोट किया। लोकसभा चुनाव में बिहार में पिछले कई सालों के आंकड़ों के अनुसार राजद की सहयोगी पार्टी है कांग्रेस का प्रदर्शन इस बार आरजेडी से बेहतर रहा। आपको बता दे 33 फ़ीसदी स्ट्राइक रेट के साथ 9 सीटों में से 3 सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल किया। लेकिन आरजेडी को बिहार में 22.14 फ़ीसदी वोट मिले। बीजेपी को 20.52 फ़ीसदी और जनता दल यूनाइटेड को 18.52 फ़ीसदी वोट मिले।

Leave a Comment