गोरखपुर विकास प्राधिकरण के द्वारा सख्त कदम उठाया जा रहा है। बता दें कि गोरखपुर के 24 अवैध कॉलोनियों पर बुलडोजर चलाने की तैयारी शुरू हो चुकी है। दरअसल मीडिया खबर के अनुसार आपको बता दें गोरखपुर विकास प्राधिकरण की टीम के द्वारा विस्तारित क्षेत्र में अवैध कॉलोनियां एवं अवैध प्लाटिंग को चिन्हित करके ड्रोन सर्वे किया जा रहा है खबर मिली है कि अभी तक 24 कॉलोनियों को चिन्हित किया गया है। सर्वे का काम पूरा होने के बाद इन सभी कॉलोनियों पर प्रशासन की सहायता से प्राधिकरण बुलडोजर चलाएगा। जीडीए की इस करवाई के बाद अवैध कॉलोनी बसाने वालो कि नींद उड़ चुकी है।

Join our verified news group for fastest updates.
जानकारी यह भी मिल रही है कि गोरखपुर विकास प्राधिकरण के प्रभारी मुख्य अभियंता के नेतृत्व में अभियंताओं की अलग-अलग टीम अवैध कॉलोनियों को क्षेत्र में चिन्हित करने का काम संभाल रही है। प्लॉटिंग एवं कॉलोनियों की फोटोस और वीडियोस ड्रोन कि सहायता से तैयार किया जा रहा है। खबर यह भी है कि जिन कालोनियों का तलपट मानचित्र जीडीए से पास नहीं होगा उसपर कार्रवाई तय होगा। यही नहीं जीडीए की वेबसाइट पर भी अवैध कॉलोनियों की सूचि को अपलोड किया जायेगा ताकि लोगो को इसके बारे पता चल सके।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जीडीए का सेवा विस्तार 2 साल पहले ही किया गया था अभी प्राधिकरण की सीमा में 319 गांव शामिल है। सीएम के निर्देश के बाद जीडीए का विस्तार कौड़ीराम, खजनी, कैंपियरगंज, तक करने की योजना है और इसके पीछे सुनियोजित विकास की मंशा है। गोरखपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष कार्यभार संभालने के साथ ही यह स्पष्ट कर दिया था कि किसी भी हालत में अवैध प्लाटिंग को उपजने नहीं दिया जाएगा। अवैध प्लाटिंग में जमीन नहीं खरीदने की अपील पहली बार सार्वजनिक रूप से नोटिस प्रकाशित करके लोगों से किया गया था। वही महायोजना 2031 लागू होने के साथ विस्तृत क्षेत्र में तलपट मानचित्र पास कराया जा सकेगा। 150 लोगों को जीडीए के तरफ से नोटिस भी दिया गया है।

Saurav Jha

I write and review new articles, I love to cover news over stock market and important business updates.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *