सूचना : गोरखनाथ मंदिर के लिए फ़्री बसो का रूट जारी, इन स्थानो से बिना टिकट कर सकेंगे सफ़र

मुख्यमंत्री और गोरक्षपीठधीश्वर योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में 7 सितंबर से महंत दिग्विजेनाथ और महंत अवद्यनाथ की पुण्यतिथि मनाने के लिए साप्ताहिक कार्यक्रमों की एक श्रृंखला शुरू की जाएगी। गोरखनाथ मंदिर के दिग्विजेनाथ स्मारक सभागार में बुधवार दोपहर 3 बजे से संगीतमय श्री राम कथा ज्ञान यज्ञ का उद्घाटन होगा।

 

8 सितंबर से व्याख्यानमाला की शुरुआत होगी। उद्घाटन और समापन समारोह में सीएम योगी शामिल होंगे । गोरखनाथ खिलाड़ियों की कमलनाथ ने कहा कि राम कथा का रसपान अयोध्या से पधारे जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्रीधराचार्य (पीठाधीश्वर, अशर्फी भवन अयोध्या) कराएंगे । इससे पहले श्री राम कथा ज्ञान यज्ञ का शोभायात्रा भी निकाला जाएगा । कथा का समय तय कर लिया गया है जोकि हर दोपहर 3:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक सुनाई जाएगी। इसका विराम13 सितंबर को हवन और भंडारे के साथ होगा ।

 

योगी कमलनाथ ने कहा कि गुरुवार से विभिन्न सामयिक व ज्वलंत विषयों पर व्याख्यानमाला का सिलसिला शुरू होगा । यह व्याख्यान प्रतिदिन सुबह 10.30 बजे से गोरखनाथ मंदिर से दिग्विजयनाथ स्मृति भवन में होगा । ‘आजादी का अमृत महोत्सव: संकल्पना से सिद्धि तक’ विषय पर व्याख्यान 8 सितंबर के पहले दिन से किया जाएगा । उन्होंने 9 सितंबर को “भारतीय सेना और अग्निपथ”, 10 सितंबर को “नए भारत के निर्माण में राष्ट्रीय शिक्षा नीति की भूमिका”, 11 सितंबर को “संस्कृत और हिंदू संस्कृति” और 12 सितंबर को “भारतीय संस्कृति और गोसेवा” पर व्याख्यान आयोजित किए जाएंगे। महंत दिग्विजयनाथ को 13 सितंबर और महंत अवेद्यनाथ को 14 सितंबर को श्रद्धांजलि देने के लिए प्रमुख कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा ।

 

# कथा स्थल के लिए यहां से निशुल्क बसें उपलब्ध रहेंगी…………..

• लालडिग्गी पार्क, बाबा चैन सिंह मंदिर, इलाहीबाग, सूर्यकुंड ओवरब्रिज, रामलीला मैदान से गोरखनाथ मंदिर

• मुंशी प्रेमचंद पार्क, टीडीएम चौराहा, रीड्स साहब चौराहा, शास्त्री चौक, गोलघर, धर्मशाला बाजार से गोरखनाथ मंदिर

• इंजिनियरिंग कॉलेज, गिरधरगंज, छात्रसंघ चौराहा, विश्वविद्यालय चौक, रेलवे स्टेशन रोड, महाराणा प्रताप तिराहा से गोरखनाथ मंदिर

• गीता वाटिका, धर्मपुर, पादरी बाजार, खजांची चौक, स्पोर्ट्स कॉलेज, जंगल नकहा, राणी सती दारी मंदिर, रामनगर चौराहा से गोरखनाथ मंदिर

• महेसरा, बरगदवां, राजेंद्र नगर से गोरखनाथ मंदिर

Leave a Comment