गोरखपुर में अपराधों और अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन ने कमर कस लिया है। बता दे कि शहर से लेकर गांव तक 1500 कैमरे लगाए जाने की तैयारी की जा रही है। दरअसल अपराधों को रोकने और अपराधियों को सजा दिलवाने में सीसीटीवी कैमरों की भूमिका बढ़ती जा रही है। सीसीटीवी कैमरे जिले में उन रास्तों पर लगाए जाएंगे जहां पिछले 3 सालों में लूट, हत्या, छिनौती, टप्पे बाजी की घटनाएं ज्यादा घटी है। गोरखपुर जिले के सभी थाने के गंभीर अपराधों को गूगल मैपिंग कराई गई है जिसके बाद संबंधित क्षेत्र के पुलिस अधीक्षकों से कैमरे की जरूरत पूछी गई है। वहीं ज्यादातर कैमरे की मांग पुलिस अधीक्षक नगर ने किया है उनका कहना है कि शहर में 954 कैमरे और लगा दिया जाए तो शहर की सभी संवेदनशील जगहों पर पूरी तरह से कैमरे की निगरानी रहेगी।

शहर में लगेंगे 954 कैमरे
बता दें कि पुलिस अधीक्षक नगर ने एडीजी से मांग किया था कि अगर उनके क्षेत्र में 954 कैमरे और लगा दिया जाए तो समस्त एरिया सुरक्षित हो जाएगा। वहीं पुलिस अधीक्षक दक्षिणी क्षेत्र से 150 और पुलिस अधीक्षक उत्तरी क्षेत्र से 313 कैमरे की मांग की गई है। बता दें कि अब तक जितने भी कैमरे जिले में लगाए गए हैं उनके अलावा इन कैमरों की मांग की गई है।

अधिकारियों का कहना कि..

अपर पुलिस महानिदेशक के अनुसार प्रथम चरण में जन सहयोग से इन कैमरों की मांग को पूरा किया जाएगा जो पूरी तरह से जनहित में रहेगा। वही दूसरे चरण में जिले में पहले देखा जाएगा कि कितने घरों और दुकानों पर कैमरे लगे हुए हैं और उन कमरों की स्थिति क्या है। पुलिस के द्वारा इसे अपने रिकॉर्ड में रखा जाएगा ताकि अगर कोई घटना घटता है तो वहां से तत्काल डाटा लिया जा सकेगा। वहीं उन्होंने कहा कि जगह-जगह कैमरे लगाए जाने से अपराधियों और अपराधों पर लगाने में मदद मिलेगी।

Rajan Sharma

Our motive to spread genuine and verified news of all over India.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *