गोरखपुर के इन दो मुख्य चौराहो के बदले जाएंगे नाम, जानिए क्या होगा इन चौराहो का नया नाम

गोरखपुर शहर के इन दो मुख्य चौराहों के नाम बदलने की तैयारी शुरू हो चुकी है। खबर के अनुसार आपको बता दें कि एक जिला एक उत्पाद योजना में शामिल गोरखपुर के दो उत्पादों टेराकोटा एवं रेडीमेड गारमेंट के नाम पर दो चौराहों का नाम रखा जाएगा। बता दें कि इसके संबंध में जीडीए उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह तंवर के द्वारा उद्यमियों एवं टेराकोटा शिल्पकारों के साथ बैठक करके उनका सुझाव लिया है।

खबर यह है कि उद्यमियों ने कचहरी चौराहा और असुरन चौराहा का नाम इन उत्पादों के नाम पर रखने को कहा है जीडीए उपाध्यक्ष के द्वारा नगर निगम को इस संबंध में पत्र लिखा गया है। वही अब नगर निगम को यह देखना है कि पहले से इन चौराहों का नामकरण तो नहीं हुआ, ऐसे में जीडीए ने नगर निगम से ऐसे चौराहे भी पूछे हैं जिनका नाम करण ओडीओपी के नाम पर हो।

जानिए क्या रखा जाएगा कचहरी और असुरन चौराहे का नया नाम

आपको बता दें कि कचहरी चौराहे का नया नाम रेडीमेड गारमेंट चौराहा और असुरन चौराहे का नाम टेराकोटा ओडीओपी चौराहा रखा जा सकता है, उद्यमियों एवं शिल्प कारों के साथ बैठक में सहमति बनी है। सीएम योगी ने ओडीओपी उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रमुख चौराहों का नाम उनके नाम पर रखने का सुझाव दिया है, निदेशक उद्योग ने जीडीए उपाध्यक्ष को पत्र के माध्यम से नगर निगम, उद्योग विभाग के साथ दोनों उद्योगों से जुड़े उद्यमियों के साथ बैठक कर चौराहों का नाम तय करने को कहा था।

नगर निगम को जीडीए ने पत्र लिखकर पूछी संभावनाएं

जीडीए उपाध्यक्ष के अनुसार बैठक में कचहरी चौराहा और असुरन चौराहा का नाम ओडीओपी उत्पादक के नाम रखने का सुझाव आया है इससे संबंधित प्रस्ताव नगर निगम को भेजा गया है वही इस पर नगर निगम की सहमति मिलने पहुंचे नाम रखे जाएंगे। इस बैठक में जीडीए के सचिव उदय प्रताप सिंह,चेंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के महासचिव प्रवीण मोदी, रेडीमेड गारमेंट रामा शंकर शुक्ला, उधमी लक्ष्मी शास्त्री, महेश कुमार गुप्ता, धर्मेंद्र भारती, विनोद मौर्य शामिल थे।

Leave a Comment